Sunday, March 19, 2017

The virginity Part 1

शहर के एक रेपुटेड स्कूल का सीन|  लंच का समय है| प्ले ग्राउंड पर कोई बच्चा दूसरे को दौड़ा रहा है| कोई छिप रहा है| कोई टिफ़िन खा रहा है| किसी ने टिफ़िन छुपा दिया है तो कोई उसे ढूंढ रहा है| क्लास 8th में लड़के एक दूसरे पर paper balls, chalk और paper aeroplane बना बना कर फेंक रहे हैं| बहुत शोर हो रहा है|




last bench पर क्लास की लड़कियों का एक ग्रुप खुसफुसा कर एक दूसरे से बातें कर रहा है| लड़कयाँ आपस में बात कर शर्मा रहीं है और खिलखिलाकर हंस रही हैं| इतने में एक paper ball आकर kavita के सर पर लगा| वो चिल्लाई...
ए, ये क्या कर रहा है तू, दिखाई नहीं देता क्या?
Meraz नाम का लड़का जिससे ball लगी, वो चिढ़ा कर बोला
नहीं, actually मैं तुझे देखना ही नहीं चाहता...
उसकी बात सुनकर सब हंसने लगे| इतने में lunch ओवर होने की बेल बज गई|




हरे रंग की साड़ी और गोल्डन फ्रेम का चश्मा लगाये एक teacher ने class में एंट्री ली| Smart and intellectual looks की teacher को देखते ही सब अपनी seat की तरफ भागे| कोई किसी से लड़ गया तो किसी ने शैतानी में दोस्त को लंगड़ी फंसा कर गिराने की कोशिश की| सब एक सुर में गाने लगे
Gooood mooorning Maaam,
Good Morning, You naughty class, who spilled these paper balls and aeroplanes? लंच के बाद हर क्लास में कूड़ा ही नजर आता है|
teacher चीखी तो बच्चे एक दुसरे की तरफ देखकर मुस्कुराने लगे|
Rahul…
Yes, Ma’am…
Please throw these balls in dustbin… and all of you take out your English Book, chapter 4 para one.



क्लास में करीब 40 बच्चे| दो rows, एक तरफ Girls, दूसरी तरफ boys. सब अपनी किताबें निकालने लगते हैं और Rahul paper balls and aeroplanes बीन कर dustbin में फेंककर अपनी सीट पर बैठ जाता है|
क्लास का एक बच्चा book का पहला para पढ़ रहा है| जबकि kavita अपने बगल में बैठी sakshi से खुसफुसा कर बात कर रही है|
ए, तू लंच में हम लोग के साथ क्यूँ नहीं बैठती?
Sakshi उसे घूर कर देखती है|
Sakshi: अभी पढाई कर ले, बाद में बताती हूँ|
Kavita: हाँ पता है, तू बड़ी पढ़ाका है...

दोनों धीरे-धीरे हँसते हैं और पढ़ने करने लगते हैं|

Sakshi का घर| 14 साल की गोरे रंगत की लड़की, मासूम सा चेहरा और बड़ी बड़ी आंखें| अपने रूम में laptop पर कुछ देख रही है| Study table पर कुछ किताबें, कॉपी और पेन पेंसिल बिखरे हैं| वो खुद से ही बात करती है|
The reproduction system in human,ये कैसा टॉपिक है यार, कितना odd लगता है जब मैम पढ़ाती हैं| ये हम खुद नहीं पढ़ सकते क्या?


Mobile से वो kavita का number dial करती है|

To be continued...

No comments:

Post a Comment